जगदेव सिंह : अनुसूचित जाति वाले प्राथमिक विद्यालयों का जारी हो अनुदान

अनुसूचित जाति वाले प्राथमिक विद्यालयों का जारी हो अनुदान : जगदेव सिंह

लखनऊ (एसएनबी)। अनुसूचित जाति छात्र बाहुल्य प्राथमिक विद्यालयों के लिए राज्य सरकार की ओर से घोषित अनुदान राशि तत्काल घोषित की जाय। अनुदान राशि जारी न होने से विद्यालयों की आर्थिक स्थिति खराब हो रही है। यह बात राज्य मंत्री और उप्र विद्यालय प्रबंधक एसोसिएशन के प्रांतीय संरक्षक जगदेव सिंह यादव ने कही। श्री यादव शुक्रवार को प्रेस क्लब में पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे। श्री यादव ने बताया कि प्रदेश भर में लगभग तीन हजार से अधिक अनुसूचित जाति छात्र बाहुल्य प्राथमिक विद्यालय हैं। मानक के हिसाब से इन विद्यालयों में अनुसूचित जाति के बच्चों की संख्या 50 प्रतिशत होती है। इन्हीं में पांच सौ विद्यालयों के लिए राज्य सरकार ने अनुदान राशि देने की घोषणा की है। सरकार से अनुरोध है कि तत्काल राशि को जारी की जाय। एसोसिएशन के प्रांतीय अध्यक्ष रामनरेश भारतीय ने बताया कि राज्य सरकार ने पिछले वर्ष अनुसूचित जाति छात्र बाहुल्य प्राथमिक विद्यालयों की वास्तविक स्थिति जानने के लिए जांच के आदेश दिये थे। समाज कल्याण विभाग की ओर से सभी तीन हजार विद्यालयों की जांच हुई थी। जांच लगभग दो हजार विद्यालय गलत पाए गये थे जबकि 1304 स्कूल सही थे। राज्य सरकार ने चुनाव से पहले इनमें से पांच सौ स्कूलों को अनुदान देने की घोषणा की थी, लेकिन अभी तक राशि जारी नहीं की गयी है।

              

            साभार : राष्ट्रीय सहारा

Post a Comment

0 Comments