69000, FAKE : 69000 भर्ती फर्जीवाड़े के मास्टरमाइंड के एल पटेल की आर्थिक स्रोतों की होगी छानबीन

69000, FAKE : 69000 भर्ती फर्जीवाड़े के मास्टरमाइंड  के एल पटेल की आर्थिक स्रोतों की होगी छानबीन


प्रयागराज : प्रदेश के परिषदीय स्कूलों में 69 हजार सहायक शिक्षक भर्ती परीक्षा में फर्जीवाड़ा करने वाले गिरोह के सरगना डॉ. केएल पटेल की कमाई का पता अब इनकम टैक्स विभाग भी लगाएगा। इसके लिए स्पेशल टॉस्क फोर्स (एसटीएफ) की ओर से इनकम टैक्स को पत्र लिखा जा रहा है। एसटीएफ भी इनकम टैक्स के सहयोग से केएल पटेल के आर्थिक स्त्रोत के बारे में छानबीन करेगी।



बहरिया थाना क्षेत्र के कपसा गांव का रहने वाला केएल पटेल झांसी में सरकारी डॉक्टर था। उसे वर्ष 2014 के आसपास नौकरी मिली थी। मगर उसने करीब आठ साल में करोड़ों रुपये चल और अचल संपत्ति के रूप में अर्जति की।


फर्जीवाड़े की विवेचना के दौरान एसटीएफ को पता चला था कि केएल पटेल ने अपने पिता राम निहोर पटेल के नाम पर इंटर कॉलेज, आइटीआइ कॉलेज और भाभी चंद्रकली के नाम पर फूलपुर में महाविद्यालय, प्राइवेट आइटीआइ कॉलेज, भाई नंद लाल के नाम से कॉलेज ऑफ फार्मेसी बनवाया है। सोरांव के खुटहना में डॉ. केएल पटेल के नाम से कॉलेज ऑफ प्रोफेशनल स्टडीज, सास के नाम पर फूलपुर में नर्सिग होम, ससुर के नाम से सर्वसमाज जूनियर हाईस्कूल और साले सत्यम के नाम से अंदावा में बसवारी रेस्टोरेंट भी खोला था।

Post a Comment

0 Comments