ONLINE, TRAINING : बेसिक और माध्यमिक के गुरुजी पढ़ेंगे सड़क सुरक्षा का ऑनलाइन पाठ

ONLINE, TRAINING : बेसिक और माध्यमिक के गुरुजी पढ़ेंगे सड़क सुरक्षा का ऑनलाइन पाठ


सामाजिक ज्ञान, समझ, शिक्षा का प्रथम द्वार विद्यालय हैं। परिवहन विभाग ने भी राज्य में सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के उद्देश्य से पठन-पाठन की इसी जड़ का रुख किया है। सभी 75 जिलों में दस-दस बेसिक और माध्यमिक शिक्षकों को सड़क सुरक्षा की ऑनलाइन ट्रेनिंग दी जाएगी। प्रशिक्षण आगामी दो सप्ताह में शुरू होगा। ये प्रशिक्षित शिक्षक अपने-अपने स्कूलों में बच्चों को रोड सेफ्टी का पाठ पढ़ाएंगे।



सड़क सुरक्षा को लेकर चल रही उच्चस्तरीय बैठकों के बाद ऑनलाइन प्रोग्राम शुरू किए जाने पर सहमति बनी है। इसी के तहत प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू होने जा रहा है। दरअसल कोरोना संक्रमण को लेकर तय की गई गाइडलाइन के चलते रोड सेफ्टी से जुड़े कई कार्यक्रमों को गति नहीं मिल पा रही थी।


चार चरणों में महीने भर का प्रशिक्षण: यह ट्रेनिंग प्रोग्राम चार चरणों में चलेगा। एक बार में बीस जिलों के दस-दस शिक्षकों के बैच को ऑनलाइन प्रशिक्षण दिया जाएगा। इनमें दस बेसिक के और दस माध्यमिक शिक्षा के अध्यापक होंगे।


बीते हफ्ते हुई बैठकों के बाद बेसिक और माध्यमिक शिक्षकों के ऑनलाइन प्रशिक्षण का कार्यक्रम शुरू किया जा रहा है। इसके बाद मास्टर यह शिक्षक अपने-अपने स्कूलों में बच्चों को नियमों का रोज पाठ पढ़ाएंगे, जिससे शुरुआती दौर से ही विद्यार्थी सड़क सुरक्षा नियमों के प्रति गंभीर हों। -पुष्पसेन सत्यार्थी, उप परिवहन आयुक्त (सड़क सुरक्षा)

Post a Comment

0 Comments