FARJI, TEACHER, FAKE : एक ही पैन और बैंक खातों का कई जिलों में हुआ इस्तेमाल, 192 मामले मिले प्रपत्रों की जांच में सामने आया मामला

FARJI, TEACHER, FAKE : एक ही पैन और बैंक खातों का कई जिलों में हुआ इस्तेमाल, 192 मामले मिले प्रपत्रों की जांच में सामने आया मामला


बलिया : अनामिका प्रकरण के बाद बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में शिक्षकों की नियुक्तियों में ही बड़ी हेराफेरी पकड़ी गई है। फर्जी शिक्षकों के वेतन भुगतान में भी फर्जीवाड़े का बड़ा मामला पकड़ा गया है। जिले में अभिलेखों की जांच में प्रदेश में 192 मामले ऐसे मिले हैं, जिसमें एक नाम और पैन नंबर की दो अलग-अलग एंट्री कई जिलों में दर्ज है। केवल उनका खाता नंबर अलग है। इसी तरह से 24 प्रकरण ऐसे हैं, जिसमें एक ही बैंक खाता नंबर अलग शिक्षकों के सम्मुख अंकित है। इसमें बलिया के भी 11 शिक्षक शामिल है। अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा ने ऐसे शिक्षकों की सूची विभिन्न जिलों के बीएसए को भेज दी है। जिसके बाद बीएसए ने इन शिक्षकों को तलब कर लिया है। 
इस वक्त प्रदेश में बेसिक शिक्षकों के वेतन संबंधी अभिलेखों की जांच हो रही है। वित्त नियंत्रक बेसिक प्रयागराज ने मई माह के वतन भुगतान की रिपोर्ट 21 जून को सौंपी थी। इसमें सामने आया है कि 192 प्रकरण ऐसे हैं, जिसमें एक ही नाम व पैन नंबर की दो अलग-अलग एंट्री विभिन्न जिलों की फाइलों में है, लेकिन उसका खाता नंबर अलग है। इसी तरह से कुल 24 प्रकरण में एक ही बैंक खाता नंबर दो अलग शिक्षकों के नाम के समक्ष दर्ज है। अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा रेणुका कुमार ने इसे संदिग्ध व आपत्तिजनक करार देते हुए लिखा है कि ये प्रकरण जांच में लापरवाही दिखाते हैं। उन्होंने शिक्षकों के वेतन संबंधी अभिलेखों का परीक्षण कराकर ऐसे प्रकरणों को चिह्नित करने के साथ ही अधिकारियों से तीन दिन में रिपोर्ट मांगी है। 


बलिया में भी नियम विरुद्घ तरीके से नियुक्त 11 शिक्षकों के मामले सामने आए हैं। एक ही बैंक खाता तथा पैन नंबर का उपयोग करके 11 शिक्षक वेतन ले रहे हैं। इन शिक्षकों की लिस्ट शासन ने बीएसए को भेजी है। बीएसए ने समस्त खंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिया है कि इन अध्यापकों को सभी प्रमाणपत्र, आधार, पेन, बैंक पासबुक, जाति-निवास समेत 29 जून को बीएसए कार्यालय पर उपस्थिति सुनिश्चित करवाएं।

Post a Comment

0 Comments