FAKE, KGBV : अनामिका शुक्ला प्रकरण में 5 एजेंसियों ने शुरू की जांच, तलाश रहे हैं कनेक्शन

FAKE, KGBV : अनामिका शुक्ला प्रकरण में 5 एजेंसियों ने शुरू की जांच, तलाश रहे हैं कनेक्शन

Published By: Deep Pandey | हिन्दुस्तान टीम,गोंडा Updated: Thu, 11 Jun 2020 06:14 PM असली अनामिका के शैक्षिक अभिलेख आखिर कैसे फर्जीवाड़ा करने वाले रैकेटियर के हत्थे चढ़ गए इसकी पड़ताल करने में शासन की टीमें जुटी हुई हैं। एसटीएफ ने मंगलवार रात को ही गोंडा जिले में दस्तक दे दी थी। दूसरे दिन आईबी ने तथ्य जुटाए। वहीं विभागीय विजिलेंस व एसआईटी ने भी बीएसए डॉ. इन्द्रजीत प्रजापति से गुरुवार को सम्पर्क साधा। यह टीमें भी जिले में आकर प्रकरण की जांच करेंगी और जुड़े तथ्य जुटाएंगी। इस तरह से इस प्रकरण में होने वाली जांचों की संख्या बढ़कर आधा दर्जन हो गई है। जांच अफसर इस प्रकरण में गोण्डा कनेक्शन की तलाश कर रहे हैं। 

जिस अनामिका शुक्ला के शैक्षिक अभिलेखों के आधार पर 25 जिलों में अलग-अलग लड़कियों ने तैनाती ली थी या फिर तैनाती लेने की कोशिश की थी, उस असली अनामिका ने किसी भी कस्तूरबा विद्यालय में न तो कभी नौकरी की और न ही वर्तमान में कहीं कर रही है। यह दावा असली अनामिका शुक्ला ने मंगलवार को बीएसए द़फ्तर पहुंचकर किया था। बीएसए दफ्तर पर उसके पहुंचने के बाद सूबे के कई जिलों में चल रही जांचों के जांच अधिकारियों की निगाहें जिले की ओर उठ गईं हैं। अब तक एसटीएफ, आईबी, विजिलेंस, एसआईटी के अलावा नगर पुलिस प्रकरण की बारीकी से जांच करेगी। इसके अलावा विभागीय जांच भी बीएसए कराएंगे। 

कई अनसुलझे सवालों के जवाब तलाश रही हैं जांच एजेंसियां : कई अनसुलझे सवालों के जवाब जांच एजेंसियां तलाश रही हैं। टीमें पूरे प्रकरण का गोण्डा कनेक्शन तलाश रही हैं। उनके सवालों के केंद्र में गोण्डा की लड़की के शैक्षिक अभिलेख का दुरुपयोग कब और कहां से शुरू हुआ। जांच अफसरों को शक है जहां से कॉकस की नजर अनामिका शुक्ला के हाई मेरिट शैक्षिक प्रमाण पत्रों पर पड़ी वहीं पर ये कॉकस मौजूद मिलेगा। हॉलाकि असली अनामिका ने पहले ही साफ कर दिया है कि उसने गोण्डा जिले के कस्तूरबा विद्यालय में नौकरी करने के लिए आवेदन ही नहीं किया था। बीएसए डॉ. इन्द्रजीत प्रजापति ने बताया कि पूरे प्रकरण से महानिदेशक स्कूल शिक्षा के अलावा डीएम व एसपी को रिपोर्ट भेज दी गई है।

Post a Comment

0 Comments