SCHOOL, MHRD : एक दिन में 50 फीसदी छात्रों के साथ शुरु हो सकती है कक्षाएं, नये सत्र में सोशल डिस्टैंसिंग की व्यवस्था

SCHOOL, MHRD : एक दिन में 50 फीसदी छात्रों के साथ शुरु हो सकती है कक्षाएं, नये सत्र में सोशल डिस्टैंसिंग की व्यवस्था

स्कूलों में दिनों के हिसाब से ऑड-ईवन लागू करने से अलग साप्ताहिक रूप से ऑड-ईवन की व्यवस्था को लागू करने पर भी किया जा रहा है विचार

नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क।लॉक डाउन की समाप्ति के बाद स्कूलों में सत्र 2020-21 की कक्षाओं में किसी भी एक दिन में सिर्फ 50 फीसदी छात्रों के साथ ही कक्षाओं की शुरुआत की जा सकती है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एमएचआरडी) और राष्ट्रीय शैक्षणिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) द्वारा लॉक डाउन के बाद स्कूलों में नये सेशन की क्लासेस के लिए ऑड-ईवन सिस्टम को लागू करने की योजना बनाई जा रही है।विभिन्न स्कूलों को कक्षाओं के आयोजन की अनुमति होगी लेकिन उन्हें सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करना होगा, जिसके लिए ऑड-ईवन एक विकल्प के तौर पर देखा जा रहा है।स्कूलों में लॉक डाउन के बाद कक्षाओं के आरंभ को लेकर ऑड-ईवन के बारे में दिशा-निर्देश जल्द ही जारी किये जा सकते हैं। कक्षाओं में ऑड-ईवन लागू होने से शिक्षकों के पास छात्रों के बेहतर ढंग से पढ़ाने में मदद मिलेगी।स्कूलों की कक्षाओं में दिनों के हिसाब से ऑड-ईवन लागू करने से अलग साप्ताहिक रूप से ऑड-ईवन की व्यवस्था को लागू करने पर भी विचार किया जा रहा है। 
योजना कार्यों में योगदान दे रहे मंत्रालय के ही कुछ अधिकारियों का मानना है कि साप्ताहिक ऑड-ईवन से छात्रों को अधिक फायदा मिलेगा और इससे न सिर्फ छात्रों बल्कि अध्यापकों की भी पढ़ाई को लेकर तारतम्यता बनी रहेगी। लॉक डाउन के कारण छात्रों की हो रही पढ़ाई को दखते हुए इस बीच एनसीआरटी ऑनलाइन स्टडी मैटेरियल के प्रोडक्शन में लगा है, जिसका प्रसारण टेलीविजन चैनलों पर किया जा सकेगा। इस स्टडी मैटेरियल से उन स्कूलों को भी मदद मिलेगी जिनके पास इंटरनेट ऑधारित ऑनलाइन कक्षाओं के आयोजन के लिए जरूरी आईटी इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं है।स्कूलों में पहली से लेकर 12वीं तक की कक्षाओं के लिए सभी विषयों के लिए स्टडी मैटेरियल के टेलीविजन पर प्रसारण को पर्याप्त समय मिले, इसके लिए हर स्टैंडर्ड के लिए एक डेडीकेटेड चैनल पर भी विचार किया जा रहा है।एनसीईआरटी के निदेशक के अनुसार सभी स्टेकहोल्डर्स को साथ लेते हुए महामारी के दौरान छात्रों की पढ़ाई का नुकसान न होने देने में यह योजना कारगार साबित होगी। उन्होंने कहा कि इस योजना का खाका, मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सोमवार को मंत्रालय के समक्ष प्रस्तुत किया जा सकता है।

Post a Comment

0 Comments