MOBILE, SHIKSHAK BHARTI : 69000 शिक्षक भर्ती में सोशल मीडिया बना सहारा, मेरिट जांचने से लेकर फीस जुटाने तक का बना माध्यम

MOBILE, SHIKSHAK BHARTI : 69000 शिक्षक भर्ती में सोशल मीडिया बना सहारा, मेरिट जांचने से लेकर फीस जुटाने तक का बना माध्यम 


प्रयागराज । 69 हजार शिक्षक भर्ती में मेरिट जांचनी हो या फिर मुकदमे की पैरवी. सोशल मीडिया सबसे बड़ा सहारा बन कर उभरा है। आपने होम लोन की ईएमआई या बीमे की किश्त के लिए कैलकुलेटर जरूर देखें होंगे। अब इसी की तर्ज पर 69000 शिक्षक भर्ती में मेरिट कैलकुलेटर से आंका जा रहा है कि कितनी मेरिट तक नियुक्ति पक्की है?


इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट में केस लड़ने के लिए फीस भी जुटाई जा रही है। इनके नेता 8-10 रुपये लाख तक जुटाने और नामी वकील उतारने के लिए फीस का जुगाड़ करने के लिए योगदान मांग रहे हैं। इन सभी के लिए सोशल मीडिया एक बड़ा माध्यम बन कर उभरी है।


इस भर्ती के लिए सोमवार से आवेदन शुरू हो गए। सोशल मीडिया पर ऐसे कैलकुलेटर मौजूद हैं जिन पर दसवीं, बारहवीं, स्नातक व शिक्षक प्रशिक्षण के अंक और शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा के अंक भरने से आपका शैक्षिक गुणांक खट से निकल आ रहा है। वहीं कई जगह इस पर सर्वे भी चल रहा है और सूचियां भी जारी की जा रही हैं कि न्यूनतम कितना कट ऑफ किस जिले में आ रहा है।

Post a Comment

0 Comments