प्रयागराज : लिखित परीक्षा प्राप्तांक व एकेडमिक अंक के आधार पर सबसे अधिक बीएड अभ्यर्थियों को लाभ होने की संभावना

प्रयागराज : लिखित परीक्षा प्राप्तांक व एकेडमिक अंक के आधार पर सबसे अधिक बीएड अभ्यर्थियों को लाभ होने की संभावना


बीएड वालों के कारण बढ़ गई सफल अभ्यर्थियों की संख्या

परीक्षार्थियों को लिखित परीक्षा में मिले अंक और एकेडमिक अंक के आधार पर मेरिट तैयार करके नियुक्ति दी जाएगी।  भर्ती में सबसे अधिक बीएड अभ्यर्थियों के सफल होने के बाद अब उनके चयन की संभावना बढ़ गई है। 


मेरिट तैयार करने की प्रक्रिया 69 हजार शिक्षक भर्ती के मूल विज्ञापन में दी गई शों के अनुसार ही होगी।

69000 शिक्षक भर्ती की ऐसे बनेगी मेरिट


बीएड वालों के कारण बढ़ गई सफल अभ्यर्थियों की संख्या

प्रयागराज। 69000 शिक्षक भर्ती परीक्षा में सफलता का ग्राफ बीएड डिग्रीधारियों सरकार से निवेदन है कि जो अभ्यर्थी किसी शिक्षक भर्ती में पहले से चयनित के कारण अनुमान से अधिक है।


 राष्टीय है और जो अभ्यर्थी तय मापदंड परा अध्यापक शिक्षा परिषद ने जून 2018 में नही कर रह है उनको 69000 शिक्षक भर्ती में मौका न दे। निरंजन सिंह, प्रदेश-महामंत्री बीटीसी संयुक्त प्रशिक्षु मोर्चा 2015 



आकड़े अप्रत्याशित है, वाकई में प्रदेश में अब शिक्षकों की भर्ती में भी उच्च स्तर की प्रतिस्पर्धा नजर आ रही है। अब बस सरकार से गुजारिश है कि विज्ञापन जारी करके प्रक्रिया को आगे बढ़ाए। 
-आशीष पटेल, 



अभ्यर्थी योग्य मान लिया था। बीएड के 262231 में से 97368, बीटीसी के 90547 में से 38610, शिक्षामित्र के 45357 में से 8018, बीएलएड के 500 में से 110 उर्दू बीटीसी के 339 में 70, स्पेशल बीटीसी के 1878 में से 301, डीएड के 2193 में 549, डीएड के 5943 में से 1034 अभ्यर्थी सफल हुए है।

Post a Comment

0 Comments