SALARY : यूपी के इन 6000 टीचरों को दो महीने से नहीं मिला वेतन

SALARY : यूपी के इन 6000 टीचरों को दो महीने से नहीं मिला वेतन

कार्यालय संवाददाता,लखनऊ । उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा विभाग में 6 हजार से अधिक शिक्षकों की होली इस बार फीकी रहेगी। खंड शिक्षा अधिकारियों ने अभी तक शिक्षकों का वैरीएशेशन और आयकर प्रपत्र लेखा विभाग को नहीं भेजा है। इसकी वजह से उनको वेतन नहीं दिया जा पा रहा है। इसके अलावा विभाग में ही तैनात सौ से अधिक कर्मचारियों को बजट न होने की वजह से दो महीने से वेतन नहीं मिल पाया है। कर्मचारियों का कहना है कि इस बार वह होली का त्योहार किस तरह से मनाएंगे।

खंड शिक्षा अधिकारियों की लापरवाही के चलते इस बार जिले के 6 हजार से अधिक शिक्षक होली नहीं मना पाएंगे। खंड शिक्षा अधिकारियों के द्वारा हर महीने शिक्षकों का वेतन वैरिएशन प्रपत्र लेखा विभाग को भेजा जाता है। लेखा विभाग के अनुसार इसमें किसी शिक्षक को निलम्बित किया गया या फिर उसका वेतन रोकने के आदेश दिए गए है तो इसकी जानकारी वेतन बिल के साथ खंड शिक्षा अधिकारी लेखा विभाग को भेजते हैं। होली का त्योंहार होने के बावजूद भी खंड शिक्षा अधिकारियों ने शिक्षकों का वेतन बिल अभी तक लेखा विभाग नहीं भेजा है। इसके अलावा इस बार 31 मार्च से शिक्षकों का आयकर प्रमाण पत्र भी लेखा विभाग को भेजा जाना है। लेखाधिकारी नागेश कुमार त्रिपाठी की ओर से खंड शिक्षा अधिकारियों को तीन पत्र भेज कर आयकर प्रपत्र भेजने के निर्देश दिए जा चुके हैं। 

कर्मचारियों का भी त्योहार फीका
मंडलीय सहायक शिक्षा अधिकारी व जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में लिपिक व चतुर्थ श्रेणी मिलाकर करीब 125 कर्मचारी तैनात हैं। कर्मचारियों ने बताया कि दो महीने से उनको वेतन नहीं दिया गया है। अधिकारियों ने बताया कि शासन की ओर से वेतन का बजट जारी नहीं किया गया है। खासकर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी वेतन न मिलने से सबसे अधिक परेशान है। उनका कहना है कि होली का त्योहार सिर पर है। ऐसे में वेतन न मिलने से वह होली कैसे मनाएंगे।


Post a Comment

0 Comments