MANTRI, PRERNA APP : टैब आते ही अनिवार्य होगा प्रेरणा ऐप', मंत्री ने कहा-अब भी परिषदीय स्कूलों में अन्य स्कूलों के मुकाबले अधिक योग्य शिक्षक

MANTRI, PRERNA APP : टैब आते ही अनिवार्य होगा प्रेरणा ऐप', मंत्री ने कहा-अब भी परिषदीय स्कूलों में अन्य स्कूलों के मुकाबले अधिक योग्य शिक्षक


मंत्री ने कहा-अब भी परिषदीय स्कूलों में अन्य स्कूलों के मुकाबले अधिक योग्य शिक्षक हैं। उनके जरिए सरकारी स्कूलों को मॉडल के रूप विकसित किया जाएगा
1054 मेधावियों का हुआ सम्मान
जीआईसी में हुए कार्यक्रम में सम्मान पाकर खिले मेधावियों के चेहरे।
मंत्री ने विद्यार्थियों को संबोधित किया।
हालांकि मंत्री ने यह भी कहा कि अब भी परिषदीय स्कूलों में अन्य स्कूलों के मुकाबले अधिक योग्य शिक्षक हैं। उनके जरिए सरकारी स्कूलों को मॉडल के रूप विकसित किया जाएगा। मंत्री ने यह बातें गुरुवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रतिभा सम्मान समारोह में शामिल होने के बाद पत्रकारों से कहीं।
इससे पहले नगर के जीआईसी ग्राउंड के ऑडिटोरियम में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) की ओर से प्रतिभा सम्मान समारोह आयोजित किया गया। इसमें मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल मंत्री द्विवेदी ने शैक्षिक, खेल व अन्य क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करने वाले 1054 छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया। मंत्री ने कहा कि एबीवीपी का गठन ही देशप्रेम की भावना को जागृति करने के लिए किया गया था।

कहा कि आज भी स्वामी विवेकानंद के विचार उतने ही प्रासंगिक है, जितने उस दौर में थे। उन्होंने शिकागो सम्मेलन में भारत की गौरवशाली परम्परा को रखकर पूरे विश्व को देश के वैभवशाली इतिहास को बताया था। यह भी कहा कि भारत के युवाओं को मैकाले की शिक्षा व्यवस्था ने काफी नुकसान पहुंचाया है। मुख्य रूप से विधायक सतीश चंद्र शर्मा, एबीवीपी के क्षेत्रीय संगठन मंत्री रमेश गड़िया, अजीत प्रताप सिंह, आकाश पटेल,मनोज मिश्र, सर्वेश अवस्थी, विजयानंद वाजपेई, राकेश पटेल शामिल हुए।
बाराबंकी में एबीवीपी के कार्यक्रम में पहुंचे बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश चंद्र द्विवेदी ने की घोषणा• एनबीटी, बाराबंकीः बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश चंद्र द्विवेदी ने कहा कि प्रेरणा ऐप से परिषदीय स्कूलों की छवि में सुधार का प्रयास किया जा रहा है। पहले भी इस ऐप को लागू करते समय कहा था कि शिक्षक अपने स्मार्ट फोन पर इसके डाउनलोड करके स्कूलों के आधारभूत ढांचे व एमडीएम की सूचनाएं भेजें।

शिक्षकों ने सवाल उठाए कि वह अपने निजी स्मार्ट फोन पर इसे कैसे डाउनलोड कर सकते हैं। किसी ने कहा कि उनके पास स्मार्ट फोन ही नहीं है। उनके सवाल पर अब टैब खरीदने की प्रक्रिया शुरू की गई है। जल्द ही टैब की आपूर्ति मिल जाएगी। इसके बाद प्रेरणा ऐप को अनिवार्य रूप से लागू किया जाएगा। अन्य कार्यों के साथ उपस्थित भी दर्ज करवाएंगे।

Post a Comment

0 Comments