GAMES, SPORT : परिषदीय विद्यालयों में खेलकूद को बढ़ावा देने हेतु परखी जाएगी खेल सामग्री की गुणवत्ता

GAMES, SPORT : परिषदीय विद्यालयों में खेलकूद को बढ़ावा देने हेतु परखी जाएगी खेल सामग्री की गुणवत्ता

प्रयागराज : परिषदीय विद्यालयों में खेलकूद को बढ़ावा देने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग का विशेष जोर है। इस शैक्षिक सत्र में प्रत्येक विद्यालय को खेलकूद का सामान खरीदने के लिए 10-10 हजार रुपये शासन से दिए गए हैं। यह खेल सामग्रियां मानक के मुताबिक खरीदी गई हैं अथवा नहीं। इसकी गुणवत्ता की परख होगी।

कक्षा एक से आठ तक के बच्चों के खेलकूद की सामग्री खरीदने के लिए शासन ने स्कूल प्रबंध समिति के खाते में धनराशि भेज दी है। लेकिन जिन विद्यालयों में मानक के मुताबिक खेल सामग्रियां नहीं खरीदी। उन पर कार्रवाई भी होगी। जुलाई में खरीदी गई खेल सामग्रियों का सत्यापन होगा। वहीं जिन विद्यालयों में खेलकूद शिक्षकों के भरोसे है। उन शिक्षकों को जुलाई में ही छह सदस्यीय टीम ट्रेनिंग देगी। ताकि वह बच्चों को जिले स्तर की प्रतियोगिताओं के लिए तैयार कर सकें। इसके अलावा पिछले महीने हुई बैठक में शिक्षा निदेशक (बेसिक) ने विद्यार्थियों के चयन के आधार को प्रतियोगिता की जगह ट्रायल को बनाने के लिए कहा था। लिहाजा, अब ट्रायल के जरिए विद्यार्थियों का चयन होगा। जिले स्तर पर होने वाली प्रतियोगिताओं के लिए जो कार्यक्रम अप्रैल में था, वह अब जुलाई में होगा।

चार ब्लॉकों में व्यायाम शिक्षक नहीं : खेलकूद को बढ़ावा देने के लिए सभी ब्लॉकों पर व्यायाम शिक्षकों की नियुक्ति जरूरी है। लेकिन चार ब्लॉकों में व्यायाम शिक्षक नहीं हैं। कोरांव, प्रतापपुर, करछना और मेजा में यह पद रिक्त हैं। इससे इन ब्लॉकों में खेलकूद की व्यवस्था फिलहाल पटरी पर नहीं आ पा रही है।

Post a Comment

0 Comments