SCHOOL, PRIMARY SCHOOL : कॉपियों की फीडिंग नहीं तो परिषदीय स्कूलों की कैसे होगी ग्रेडिंग, स्कूलों की होंगी चार श्रेणियां

SCHOOL : कॉपियों की फीडिंग नहीं तो परिषदीय स्कूलों की कैसे होगी ग्रेडिंग, स्कूलों की होंगी चार श्रेणियां

प्रयागराज: परिषदीय स्कूलों की ग्रेडिंग तय करने के लिए बच्चों की परीक्षाएं करा ली गईं, कापियां भी जंच गईं, लेकिन ग्रेडिंग के नतीजे आने की बारी आई तो जिस एप पर कापियों की ऑनलाइन फीडिंग होनी थी, वह एप ही नहीं खुल रहा है। ऐसे में सवाल उठ रहा है कि बुधवार को ग्रेडिंग कैसे हो सकेगी।
परिषदीय स्कूलों के बच्चों की योग्यता परखने के लिए जिले में पहली बार ग्रेडेड लर्निग परीक्षा आयोजित की गई। छह मार्च को कक्षा एक से आठ तक के बच्चों की परीक्षा ओएमआर सीट पर कराई गई। इसके माध्यम से स्कूलों की ग्रेडिंग भी होनी है। इसमें सभी विद्यालयों के करीब 80 फीसद बच्चे शामिल हुए थे। बच्चों की कापियां शिक्षकों ने जांच दी। लेकिन खंड शिक्षाधिकारियों को जिस एप पर इन कापियों की फीडिंग 10 अप्रैल तक कराने के लिए कहा गया था।


स्कूलों की होंगी चार श्रेणियां : इस ग्रेडिंग के जरिए स्कूलों की चार श्रेणियां ए, बी, सी और डी तय होंगी। कहा जा रहा है कि सी और डी श्रेणियों के स्कूलों के बच्चों के पठन-पाठन का स्तर भी ए और बी श्रेणी के विद्यालयों के बच्चों के स्तर का करने के लिए विशेष ध्यान दिया जाएगा। यदि बच्चे कमजोर हैं तो उनके लिए कौन सा नवाचार अथवा गतिविधियां स्कूलों में संचालित की जाएं, ताकि अन्य बच्चों की श्रेणी में वह भी आ सकें।


Post a Comment

0 Comments