SCHOOL, MHRD, MANTRI : 15 अगस्त के बाद खुलेंगे स्कूल-कॉलेज, राज्यों की सहमति से ही खोले जाएंगे स्कूल, किसी भी निर्णय से पहले होगी चर्चा - मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक

SCHOOL, MHRD, MANTRI : 15 अगस्त के बाद खुलेंगे स्कूल-कॉलेज, राज्यों की सहमति से ही खोले जाएंगे स्कूल, किसी भी निर्णय से पहले होगी चर्चा - मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक

राज्यों की सहमति से ही खोले जाएंगे स्कूल, किसी भी निर्णय से पहले होगी चर्चा। 

15 अगस्त के बाद खुलेंगे स्कूल-कॉलेज, मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक का ऐलान


 नई दिल्ली : स्कूलों को खोलने को लेकर चल रही चर्चाओं के बीच मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्रालय ने इस पर किसी भी निर्णय से पहले राज्यों के साथ चर्चा का फैसला किया है। 


राज्यों के साथ यह उच्च स्तरीय बैठक सोमवार यानी आठवण को केंद्र की स्कूली शिक्षा सचिव की अगुवाई में होगी। इसमें सभी राज्यों के स्कूली शिक्षा सचिवों के साथ केंद्रीय विद्यालय और नवोदय विद्यालय के आयुक्तों को भी बुलाया गया है।



 यह बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होगी। वैसे तो स्कूलों का विषय राज्यों से बड़ा है, लेकिन एचआरडी मंत्रालय की और से इसको लेकर राज्यों को एडवाइजरी जारी की जा सकती है। मंत्रालय ने राज्यों के साथ ही बैठक की यह योजना तब बनाई है, जब हाल ही में मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने स्कूलों को 15 अगस्त के बाद खोलने के संकेत दिए थे।


-------------- ------------ ------------------ ----------------  -------------


छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के हफ्तों के भ्रम के बाद मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा है कि स्कूलों और कॉलेजों को अगस्त 2020 के बाद फिर से खोला जाएगा. बता दें, दोबारा स्कूल खोलने के लिए दिल्ली के उपमुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार को पत्र लिखा था.
  

छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के हफ्तों के भ्रम के बाद मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा है कि स्कूलों और कॉलेजों को अगस्त 2020 के बाद फिर से खोला जाएगा. संभवतः 15 अगस्त 2020 के बाद शैक्षणिक संस्थान खुल जाएं. डॉ. रमेश पोखरियाल ने एक इंटरव्यू में यह बात कही है. उन्होंने कहा, "15 अगस्त तक सभी परीक्षाओं के परिणाम घोषित करने की कोशिश कर रहे हैं."


आपको बता दें, इस संबंध में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने एचआरडी मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक को स्कूल पुनः खोलने की योजना पर पत्र लिखा था. इस बात की जानकारी उन्होंने कल ट्वीट के माध्यम से दी थी.


उन्होंने अपने पत्र में लिखा था, "समय आ गया है कि कोरोना के सहअस्तित्व को स्वीकार करते हुए देश में स्कूलों की भूमिका नए सिरे से तय की जाए.."


इसी के साथ उन्होंने लिखा, स्कूलों को साहसिक भूमिका के लिए तैयार नहीं किया गया तो यह हमारी ऐतिहासिक भूल होगी, स्कूलों की भूमिका पाठ्यपुस्तकों तक सीमित नहीं रहेगी, बल्कि बच्चों को जिम्मेदार जीवन जीने के लिए तैयार करने की होगी.


आपको बता दें, कोरोना वायरस महामारी के कारण दिल्ली के सभी स्कूल- कॉलेज मार्च महीने से बंद हैं. ऐसे में ऑनलाइन पढ़ाई करवाई जा रही है, लेकिन इस बात से भी मुंह नहीं मोड़ा जा सकता है कि कहीं न कहीं छात्रों की पढ़ाई का नुकसान भी हो रहा है.


■  मनीष सिसोदिया ने अपने पत्र में लिखी थी ये बातें

●- - कोरोना के साथ जीने के दौरान दुनिया में शिक्षा में बड़े बदलाव होंगे, अपनी आवश्यकतानुसार स्कूलों का पुनर्निर्माण करें, हम इंतजार न करें कि अन्य देश कुछ कर लें, तो हम उसकी नकल करें.

●- - हम अपने बच्चों को एक बेहतर और ज्यादा ख्याल करने वाले स्कूल दें.


●-- सभी स्टेकहोल्डर्स के साथ परामर्श करके स्कूल अपनी जरूरत और संसाधनों को ध्यान में रखते हुए अपनी योजना स्वयं बना सकें.

●- - अभी स्कूलों को सपोर्ट की आवश्यकता होगी, बच्चों की तरह ही शिक्षा जगत से जुड़े सभी लोगों और स्कूलों को भी सीखने और जिम्मेदार बनने की जरूरत है.


■  कब होंगी बची हुई परीक्षाएं और प्रवेश परीक्षा

◆ CBSE बोर्ड परीक्षा 1 जुलाई से 15 जुलाई तक आयोजित की जाएगी, ICSE / ISC परीक्षा 1 जुलाई से शुरू होकर 12 जुलाई तक चलेगी.

◆ NEET और JEE की परीक्षा जुलाई में होगी. NEET की प्रवेश परीक्षा 26 जुलाई और JEE की प्रवेश परीक्षा 18 जुलाई से 23 जुलाई तक होगी.

Post a Comment

0 Comments