FAKE, SHIKSHAK BHARTI : 69000 सहायक शिक्षक भर्ती परीक्षा के बड़े फर्जीवाड़ा करने वाला सरगना गिरफ्तार, बरामद हुए लग्जरी गाड़ियां, लाखों रुपए व संबंधित दस्तावेज

FAKE, SHIKSHAK BHARTI : 69000 सहायक शिक्षक भर्ती परीक्षा के बड़े फर्जीवाड़ा करने वाला सरगना गिरफ्तार, बरामद हुए लग्जरी गाड़ियां, लाखों रुपए व संबंधित दस्तावेज

0
SHARES

डीबीएस न्यूज़ प्रयागराज: उत्तर प्रदेश में  69000 सहायक शिक्षक भर्ती परीक्षा में तमाम अटकलें आ रही थी। भर्ती के लिए आवेदित विद्यार्थियों ने कुछ प्रश्नों पर अपनी असहमति भी जाहिर की थी  इसी बीच  एक नया फर्जीवाड़े  का मामला  सबके सामने बम फोड़ रहा है। हाल ही में हुई 69 हजार सहायक शिक्षक भर्ती परीक्षा में फर्जीवाड़े मामले में यूपी एसटीएफ और प्रयागराज पुलिस की छापेमारी जारी है। पुलिस हर स्तर से फर्जीवाड़े के तफ्तीश में जुटी हुई है। मामले में पुलिस ने मुख्य सरगना डॉ. केएल पटेल को गिरफ्तार कर लिया है। अब तक 8 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं।

पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर 8 लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनके पास से 7.56 लाख रुपये, अभ्यर्थियों की मार्कशीट, सहायक अध्यापक संबंधित दस्तावेज, एक डायरी जिसमें अभ्यर्थियों के रोल नंबर और रजिस्ट्रेशन नंबर लिखा है। पकड़े गए आरोपियों में कुछ एजेंट है, जो शिक्षक भर्ती का परिणाम आने के बाद अभ्यर्थियों से वसूली करके जा रहे थे। इस रैकेट के मुख्य आरोपी फूलपुर के पूर्व जिला पंचायत सदस्य डॉ. केएल पटेल बताए जा रहे हैं, जिनके 4 कॉलेज हैं। पुलिस उनको हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

पुलिस ने इनके पास से 2 लग्जरी कार सहित 22 लाख रुपए औऱ कई महत्वपूर्ण दस्तावेज भी बरामद किए हैं। यूपी के कई जिलों में फैले रैकेट से जुड़े लोगों की तलाश में एसटीएफ औऱ क्राइम ब्रांच की टीम लगातार छापेमारी कर रही है। बता दें प्रतापगढ़ निवासी राहुल सिंह की तरफ से प्रयागराज के सोरांव थाने में गुरुवार देर रात एफआईआर दर्ज कराई गई थी। एफआईआर दर्ज होने के बाद पुलिस ने मुख्य सरगना सहित 8 लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार लोगों से पूछताछ में कई सनसनीखेज खुलासे हुए हैं।

सहायक शिक्षक भर्ती में फर्जीवाड़ा करने के आरोप में कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। इनके पास से लग्जरी गाड़ियां, भारी मात्रा में धनराशि और फर्जी डाक्यूमेंट्स मिले हैं।

सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज, एसएसपी

Post a Comment

0 Comments